उज्जवला स्कीम: LPG के लिए भी आधार जरूरी

0
64
latest news in hindi

कुछ महीने पहले पहल (PaHaL) स्कीम के तहत एलपीजी सिलिंडर पर सब्सिडी के लिए आधार को जरूरी करने के बाद अब पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्रालय ने अपनी एक और अहम स्कीम प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के लिए भी आधार कार्ड को जरूरी कर दिया है।

उज्जवला योजना के तहत गरीबी रेखा से नीचे गुजर-बसर करने वाली महिलाओं को एलपीजी कनेक्शन दिया जाता है। अब एलपीजी कनेक्शन हासिल करने के लिए 31 मई तक आधार का रजिस्ट्रेशन कराना होगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पिछले साल बलिया में उज्ज्वला योजना की शुरुआत की थी। इस योजना के तहत अब तक तकरीबन 1.67 करोड़ फ्री एलपीजी कनेक्शन मुहैया कराए जा चुके हैं।

सरकार का इरादा सभी 2019 तक ऐसे 5 करोड़ एलपीजी कनेक्शन मुहैया कराकर बीपीएल परिवारों को इसके दायरे में लाना है। इसकी लागत 1,600 रुपये प्रति कनेक्शन पड़ती है, जिसका बोझ सरकार वहन करेगी। गरीबी रेखा से नीचे गुजर-बसर करने वाली (बीपीए) 3.23 करोड़ महिलाओं को अभी इस स्कीम का लाभ मिलना बाकी है, जिसके लिए अब पहले आधार बनवाने की जरूरत होगी। इस संबंध में 6 मार्च को जारी नोटिफिकेशन में कहा गया है, ‘इस स्कीम के तहत लाभ उठाने वालों के पास अगर आधार कार्ड नहीं है, तो 31 मई तक इसके लिए एनरॉल करवाना होगा।’

पिछले एक हफ्ते में सरकार पहले ही मिड-डे मील समेत तकरीबन तीन दर्जन स्कीमों के लिए आधार को जरूरी बना चुकी है। एक सीनियर सरकारी अधिकारी ने बताया कि इस महीने के अंदर इसके दायरे में 50 और स्कीमों को लाने की बात है। उन्होंने कहा, ‘देश में अब 99 फीसदी से भी ज्यादा वयस्क लोगों के पास आधार कार्ड है। काफी कम संख्या में बिना आधार कार्ड के ऐसे लोग हैं, जिन्हें विभिन्न स्कीमों के तहत फायदा दिया जा रहा है। ये लोग भी 31 मार्च तक आधार के लिए रजिस्ट्रेशन करा लेंगे। पिछले साल एलपीजी सब्सिडी के लिए आधार को जरूरी किए जाने को किसी तरह की कानूनी चुनौती नहीं मिली।’

अधिकारी ने कहा, ‘बीपीएल परिवारों को वैसे भी पहल स्कीम के तहत सब्सिडी वाले सिलिंडर हासिल करने की खातिर आधार की जरूरत होगी। लिहाजा पीएम उज्ज्वला योजना के लिए कनेक्शन के लिए आधार की जरूरत भी स्वाभाविक है। इससे सरकार को यह सुनिश्चित करने में मदद मिलेगी कि सही लोगों को इसका लाभ मिले।’